Phir Bhi Tumko Chahunga Lyrics – Half Girlfriend

Phir Bhi Tumko Chahunga Lyrics

Phir Bhi Tumko Chahunga Lyrics Sung By Arijit Singh & Shashaa Tirupati

Credits For This Song Lyrics –

Song – Phir Bhi Tumko Chaahunga
Movie – Half Girlfriend
Singers – Arijit Singh & Shashaa Tirupati
Music – Mithoon
Lyricist – Manoj Muntashir

Phir Bhi Tumko Chahunga Lyrics - The Lyrics Mania

 

Lyrics of Phir Bhi Tumko Chahunga

Tum mere ho iss pal mere ho
Kal shayad ye alam naa rahe
Kuch aisa ho tum tum naa raho
Kuch aisa ho hum hum naa rahe

Yeh raaste alag ho jaaye
Chalte chalte hum kho jaaye

Main phir bhi tumko chahunga
Main phir bhi tumko chahunga

Is chahat mein marr jaunga
Main phir bhi tumko chahunga
Meri jaan mein har khamoshi hain
Tere pyaar ke nagme gaunga

Main phir bhi tumko chahunga
Main phir bhi tumko chahunga
Is chahat mein mar jaunga
Main phir bhi tumko chahunga

Aise zaroori ho mujhko tum
Jaise hawa ye saanson ko
Aise talashun main tumko
Jaise ke pair zameeno ko

Hasna yaa rona ho mujhe
Paagal sa dhoondhun main tumhe
Kal mujhse mohabbat ho naa ho
Kal mujhko ijazat ho naa ho
Tutte dil ke tukde lekar
Tere darr pe hi reh jaaunga

Main phir bhi tumko chahunga
Main phir bhi tumko chahunga
Is chahat mein mar jaunga
Main phir bhi tumko chahunga

Tum yoon mile ho jabse mujhe
Aur sunehri mein lagti hoon
Sirf labon se nahi ab toh
Poore badan se hasti hoon

Mere din raat salone se
Sab hai tere hi hone se
Yeh saath hamesha hoga nahi
Tum aur kahi mein aur kahi

Lekin jab yaad karoge tum
Main ban ke hawa aa jaunga oh..

Main phir bhi tumko chahunga
Main phir bhi tumko chahunga
Iss chahat mein mar jaunga
Main phir bhi tumko chahunga

Main phir bhi tumko chahunga

Phir Bhi Tumko Chahunga Lyrics In Hindi

तुम मेरे हो इस पल मेरे हो
कल शायद ये आलम ना रहे
कुछ ऐसा हो तुम तुम ना रहो
कुछ ऐसा हो हम, हम ना रहें
ये रास्ते अलग हो जाए
चलते चलते हम खो जाएँ
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
इस चाहत में मर जाऊँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मेरी जान में हर ख़ामोशी ले
तेरे प्यार के नगमे गाऊंगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
इस चाहत में मर जाऊँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
ऐसे ज़रूरी हो मुझको तुम
जैसे हवाएं साँसों को
ऐसे तलाशूँ मैं तुमको
जैसे की पैर ज़मीनों को
हंसना या रोना हो मुझे
पागल सा ढूँढू मैं तुम्हे
कल मुझसे मोहब्बत हो ना हो
कल मुझको इजाज़त हो ना हो
टूटे दिल के टुकड़े लेकर
तेरे दर पे ही रह जाऊँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
इस चाहत में मर जाऊँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
तुम यूँ मिले हो जबसे मुझे
और सुनहरी मैं लगती हूँ
सिर्फ लबों से नहीं अब तो
पूरे बदन से हंसती हूँ
मेरे दिन रात सलोने से
सब है तेरे ही होने से
ये साथ हमेशा होगा नहीं
तुम और कहीं मैं और कहीं
लेकिन जब याद करोगे तुम
मैं बनके हवा आ जाऊँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
इस चाहत में मर जाऊँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा
मैं फिर भी तुमको चाहूँगा

 

 

 

 

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *